Black Fungus का खतरा किन लोगो को ज्यादा होता है? Mucormycosiw के लक्षण क्या होता है?

Black Fungus

एक ऐसी बीमारी जिसमे लोगो के आँखों को भी निकलना पड रहा है और अगर समय से इलाज नहीं किया गया तो जान भी जा सकती, यह बीमारी कोरोना से ठीक हुए लोगो को होती है आइये जानते है ब्लैक फंगस क्या है और यह कैसे होता है और इससे कैसे बचा जा सकता है, इसके लक्षण क्या क्या होते है और यह कब ख़तरनाक हो जाता है जिसमे लोगो की जान भी जा सकती है।

Black Fungus क्या है?

Black फंगस को mucormycosiw के नाम से भी जाना जाता है।Black fungs कुछ और नहीं बल्कि वही फंग्स है जो रोटी ब्रेड इत्यादि पर लग जाता है। यह आम दिनों मे भी शरीर पर लग जाता है लेकिन इसे हमारे शरीर से निकलने वाला पसीना ही मर देता है।

कोविड के मरीजों मे यह बीमारी देखने को मिल रही है जो उनके लिए घातक साबित हो रही है, और उनके कोरोना से बचने के black फंगस का खतरा ज्यादा ज्यादा रह रह है। black ब्लैक फंगस शरीर मे immunity की कमी के कारण होता है।

ब्लैक फंगस क्यों होता है?

कोरोना के मरीजों को ब्लैक फंगस नमी के माध्यम से होता है और शरीर में प्रवेश करता है। इसके शरीर में प्रवेश करने का रास्ता नाक है और उसके बाद यह फेफड़े, और उसके बाद मस्तिष्क तक पहुँचता है।

कोरोना के मरीजों को ब्लैक फंगस नमी के माध्यम से होता है और शरीर में प्रवेश करता है। इसके शरीर में प्रवेश करने का रास्ता नाक है और उसके बाद यह फेफड़े, और उसके बाद मस्तिष्क तक पहुँचता है।

ब्लैक फंगस होने का मुख्य कारण कोरोना के मरीजों को ज्यादा मात्र में दिए जाने वाला dexamethason या जिन लोगो का रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत ही कम है है, या उन लोगो को जिन्हे HIV है , suger के मरीज ऐसे लोगो को ब्लैक फंगस का खतरा ज्यादा होता है।

लक्षण

mucormycosiw होने पर निम्न लक्षण दिखाई देते है –

  1. नाक से पानी आना (जिसका रंग हल्का भूरा होगा )
  2. आँखों का लाल हो जाना
  3. खासी आना
  4. उल्टी आना
  5. नाक के पास स्वेलिंग होना