भाटपार रानी क्षेत्र से कौन मरेगा बाज़ी आशुतोष उपाध्याय या सभाकुंवर कुशवाहा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव चल रहा है जिसमें आज चौथे चरण का चुनाव पूर्ण हुआ, उत्तर प्रदेश की राजनीति में भाटपार रानी एक महत्वपूर्ण सीट है क्योंकि इस सीट से पिछले 30 सालों से समाजवादी पार्टी विजय प्राप्त की है 2017 के विधानसभा चुनाव में भाटपार रानी की सीखने ही समाजवादी पार्टी की लाज बचाई थी।

आशुतोष उपाध्याय vs सभाकुंवर कुशवाहा

 इस बार की लड़ाई बड़ी ही जबरदस्त होने वाली है क्योंकि सभी राजनीतिक पार्टियों ने जाति समीकरण को ध्यान में रखते हुए अपने उम्मीदवारों को खड़ा किया है। समाजवादी पार्टी ने अपने पूर्व विधायक आशुतोष उपाध्याय को खड़ा किया है और भारतीय जनता पार्टी ने सवाकोर कुशवाहा को अपना उम्मीदवार इस सीट से बनाया है जो कि पिछली चुनाव में बहुजन समाज पार्टी की सीट से चुनाव लड़े थे।

Ashtosh Upadhyay, sabhakuwar kushwaha, bhatpar rani vidhan sabha, ashutosh Upadhyay bhatpar rani
आशुतोष उपाध्याय vs सभाकुंवर कुशवाहा

इस बार 2022 में बहुजन समाज पार्टी ने भाजपा रानी की सीट से अजय कुमार कुशवाहा को अपना उम्मीदवार बनाया है और कांग्रेस ने केशव चंद यादव को इस सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। सभी पार्टियों का जाति समीकरण बहुत ही जबरदस्त है क्योंकि इस क्षेत्र में कुशवाहा यादव और ब्राह्मणों की वोट ज्यादा हैं।

 क्योंकि इस सीट से समाजवादी पार्टी पिछले 35 सालों से अपनी जीत हासिल कर रही है इसलिए इस सीट से दूसरी पार्टियों को अपने उम्मीदवार बड़े सोच समझकर खड़े करने होते हैं।

 सपा के आशुतोष उपाध्याय 2012 से राजनीति में आए, पिता कामेश्वर उपाध्याय की मृत्यु के पश्चात आशुतोष चुनाव लड़े और भाटपार रानी क्षेत्र से विजय प्राप्त की और तब से 2017 में भी विजय प्राप्त किए और अब 2022 का चुनाव चल रहा है देखते हैं इस बार क्या होता है।

 भारतीय जनता पार्टी ने इस बार सभा कुंवर कुशवाहा को भाटपार रानी के सीट से उम्मीदवार बनाया है सभापुर कुशवाहा पिछले 40 सालों से राजनीति में हैं और अलग अलग राजनीतिक दलो के टिकट से चुनाव लड़े हैं जिसमें बसपा भाजपा और कांग्रेस है। सभापुर कुशवाहा को टिकट मिलने का एक कारण यह भी हो सकता है कि इनको भारत पर आने के राजनैतिक वातावरण की सूझबूझ अन्य लोगों से ज्यादा हो क्योंकि यह पिछले 40 सालों से इस क्षेत्र में सक्रिय राजनीतिक नेता है।

 पिछली बार 2017  भारतीय जनता पार्टी ने जयनाथ कुशवाहा को अपना उम्मीदवार इस सीट से घोषित किया था जो हार गए थे और जयनाथ कुशवाहा और सभाकुंवर कुशवाहा के वोटों का अंतर कुछ ज्यादा नहीं था।

 इस बार भाजपा रानी की सीट से बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार अजय कुमार कुशवाहा भी एक दमदार नेता है, अजय कुशवाहा बनकता क्षेत्र कि एक अच्छे नेता है युवा नेता है, और सपा और भाजपा दोनों को ही टक्कर देने में काबिल है। देखते हैं इस बार इस सीट से कौन बाजी मारता है।