नेटवर्क मार्केटिंग मे काम कैसे करते है?

आप के मन मे सवाल आता होगा की, नेटवर्क मार्केटिंग मे काम कैसे करते है? इस बिज़नेस को शुरुवात करने के लिए क्या करना पड़ता है तो आइये इन सभी सवालों के जबाब जानते है। Network marketing एक ऐसा बिज़नेस जो आप को एक opportunity देता है दौलत के साथ साथ fame और time freedom कमाने का। इतना ही नहीं जब आप इस बिज़नेस मे आते हो तो आप को कुछ ऐसे लोगो मिलते है जो आप से सक्सेस की बात करते है, life मे आगे बढ़ने की बात करते है,

नेटवर्क मार्केटिंग

जबकि किसी और बिज़नेस मे अगर आप देखो तो ऐसा नहीं होता है। आइये जानते है की नेटवर्क मार्केटिंग मे सफलता पाने के लिए life मे name, fame, time freedom पाने के लिए आइये जानते है की नेटवर्क मार्केटिंग मे काम कैसे करते है?

अगर मै बात करू की नेटवर्क मार्केटिंग मे काम कैसे करते है तो इसके बहुत सारे तरीके है लेकिन आज हम जिन चीज़ो की बात करने जा रहे है वह काम करने का बेसिक या आप कह सकते हो नीव है, आप चाहे किसी भी तरीके से काम के वो सब इन्ही के अंतर्गत आएगा।

जब आप का रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाता है तब आप की upline /सीनियर आप की बेसिक ट्रेनिंग करते है, बेसिक ट्रेनिंग मे आप को कम्पनी के culture के बारे मे बताया जाता है, आप को अपनेupline / सीनियर से कैसे व्यवहार करना है, अपने downline से कैसे व्यवहार करना है वो सारी चीज़े बताई जाती है। आप को कम्पनी के ethics बताये जाते है, और सबसे महत्पूर्ण बात की आप ने इस बिज़नेस को नेटवर्क मार्केटिंग को क्यों ज्वाइन किया,

आप का आप के life का टारगेट लिखने को कहा जाता है, और आप लिखते हो की मेरे life का टारगेट क्या है मैंने इस बिज़नेस को क्यों ज्वाइन किया, मै इस नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस से कहाँ से कहाँ पहुँचे सकता हु। आप को आप का short-term , midterm goal, Longterm goal लिखने को कहाँ जाता है  की आप आने वाले एक से दो महीने मे achive करना चाहते है, 6 महीने मे क्या achive करना चाहते है, और आने वाले 5 साल मे क्या achive करना चाहते है।

बेसिक ट्रेनिंग होने के बाद आप को वर्कशॉप  मे बुलाया जाता है जिसमे आप को वो सारी चीज़े बताई जाती है जिससे आप आगे काम करगे, जैसे की इनविटेशन कैसे करना है, आप को प्रेजेंटेशन सिखाया जाता है, कैसे gaust को प्लान दिखया जाय, कैसे gaust का फ़ॉलोअप करना है वो सारी चीज़े सीखायी जाती है। तो आईये हम एक एक कर के सभी चीज़ो के बारे मे जानते है।

1. Prospect list/Guest list/friend List  बनाना


नेटवर्क मार्केटिंग मे आगे बढ़ने की ओर पहला कदम है लिस्ट बनाना। हर किसी की शुरुवात इसी से होती है। जब आप का रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाता है, आप की बेसिक ट्रैंनिंग हो जाती है तब upline कहती है की आप के जितने भी friend है जिनको आप जानते हो और वो भी आप को जनता है उसका एक लिस्ट बनाइये, आप के जितने भी relatives है आप सबका लिस्ट बनाइये, किस शहर मे आप का कौन सा फ्रेंड रहता है, रिस्तेदार रहते है सबका लिस्ट बनाइये। तब हम लिस्ट बनाते है और लिस्ट बनाने के बाद अगला कदम होता है उनसे मिलना, उनसे कॉन्टेक्ट करना, उनसे बात करना, ताकि आप का उनसे रिस्ते अच्छे हो जाए।

2. Invitation


List बनाने के बाद अगला कदम होता है जिन दोस्तों की हमें लिस्ट बनाई है उनको बुलाना, उनको invite करना। अब invite करने का भी एक तरीका होता है, जो आप को आप की upline बताती है। अगर आप ने invitation अगर जबरदस्त तरीके से कर दिया तो, chances है की आप का वो गैस्ट आप के नेटवर्क मे आ जाए

Invitation नेटवर्क मार्केटिंग का पहला piller है आधार सिला है क्योकि अगर आप ने इसको अच्छे से नहीं किया या तो आप को समस्या आएगी और हमेसा आएगी क्योकि जब तक आप प्रॉस्पेक्ट को जबरदस्त तरीके से नहीं बुलाओगे तब तक वह आप के साथ नहीं आएगा। हाँ शुरुवाती दिनों मे आप की upline आप की हेल्प करेगी लेकिन आप अपने upline का सहारा कब तक लेगे, आप की upline आप के साथ कहाँ तक जाएगी।

इसलिए आप को इनविटेशन मे महारथ हासिल कर लेनी चाहिए, ताकि आप कही भी बस मे, ट्रैन मे, ऑटो मे आसानी से गेस्ट को approach कर पाए अपने कम्पनी के मीटिंग और सेमिनार मे ले जाने के लिए।

3. Presentation

Invitation के बाद next step होता है presentation. जिस guest  को आप ने  invite किया है उसको कम्पनी का प्लान दिखना। हर कम्पनी का अपना एक प्लान होता है की कम्पनी के प्रोडक्ट क्या है, कम्पनी के बिज़नेस प्लान क्या है, कम्पनी कैसे काम करती है ये सारी चीजे आप को presentation मे बतानी होती है गेस्ट को। जिसे देख कर कोई आदमी आप को ज्वाइन करता है।

अगर आप नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस मे नए है तो आप गेस्ट का presentation अपने upline से कराये कब तक जब तक की आप इस skill मे एक्सपर्ट नहीं हो जाते है, लेकिन एक बात और है आप इस किसी भी फील्ड मे एक्सपर्ट कब होंगे जब आप उस चीज को करेंगे, उस चीज को एक्सपीरियंस करेंगे, इस लिए आप भी presentation कैसे किया जाता है सीखते रहिये तभी तो आप करेगे।

4.Follow-up

जब आप अपने गेस्ट को प्लान दिखा देते हो तब उस गेस्ट के मन मे, आप के फ्रेंड के मन मे कुछ सवाल होते है कुछ query होती है, कम्पनी को लेकर, प्रोडक्ट को लेकर, या प्लान को लेकर, या ऐसा भी हो सकता है की उसे कुछ बाते समझ मे न आइ हो इन सभी सवालों के जबाब आप को गेस्ट का  follow-up करते समय देना होता है।

Follow-up करना बहुत ज़रूरी होता है क्योकि इसके बिना वह आप के साथ बिज़नेस करने को राज़ी नहीं होगा, क्यों नहीं होगा क्योकि उसके मन मे कुछ सवाल है उसके मन मे कुछ doubt है जिसे आप को clear करना ही होगा उसे ज्वाइन कराने के लिए। 

शुरुवात के दिनों मे आप के गेस्ट का follow-up आप की upline ही कर देती है लेकिन ये skill आप भी सीखनी ज़रूरी है क्योकि इसके बिना तो आप कुछ नहीं कर सकते हो।

Follow-up करने के बाद आप को sells closing करनी होती है जिससे उस गेस्ट की ज्वाइन पक्की हो जाय। और उसके बाद उस गेस्ट को अपने मीटिंग, सेमिनार मे ले जाना होता है ताकि वह motivated रहे और आप के साथ काम करने के लिए तैयार रहे।